ITI Full Form in Hindi – iti kya hota hai – 2023

नमस्कार  दोस्तों  


iti full form in hindi दोस्तों आईटीआई (ITI) एक बिजनेस टेक्नोलाॅजी कोर्स होता है जिसे  आप लोग  10वीं या  फिर  12वीं के बाद कर सकते है, iti full form in hindi meaning यह कोर्स उन सभी विद्यार्थियों के सुनहरे भविष्य के लिए नए मौका  होता  है जो इंडस्ट्रियल  फील्ड  में  अपना कैरियर   बनाना चाहते  है। इस कोर्स का मकसद   युवाओं में कौशल रोजगार को बढ़ावा देना  होता  है 


Seekhle Boss की  ब्लॉग  पोस्ट  में  आपका  स्वागत  है  आज  हम  आपके  साथ iti से  जुडी  जानकारी साझा  करेंगे   जैसे  की  iti ki full form क्या  है  , iti को  करने  के  लिए आपके  पास  क्या  योगयता  होनी चाइये, iti full form in Hindi 2024, और और भी  इससे  सम्बंधित   जानकारी  देने  का  प्रयास  करेंगे  तो iti kya hota hai  के बारे में विस्तार से  जानने के लिए  इस  ब्लॉग  पोस्ट  में  हमारे  साथ  अंत  तक  बने रहे  । 

ITI की फुल फॉर्म क्या होती है? iti full form in hindi

Hindi me आईटीआई की फुल फाॅर्म इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट होती है। 


इंग्लिश में ITI की फुल फाॅर्म Industrial Training Institute होती है। 

आईटीआई क्या होती है? - iti kya hota hai

आईटीआई का  पूरा  नाम इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट होती है। यह  एक बिजनेस टेक्नोलाॅजी कोर्स होता है जिसे  आप  लोग  10वीं या  फिर  12वीं के बाद  कर  सकते  है इसमें  Electronic, Mechanic, Stenography ,Computer Operating & Programming, Fitters, वेल्डर और Plumber इन  सभी की  ट्रेनिंग  दी  जाती  है


ITI में कौन-कौन से ट्रेड को शामिल किया  गया हैं?

आईटीआई की कुछ प्रमुख ट्रेड की लिस्ट निम्नलिखित  हैः- 

  • Electronic Mechanic

  • Electrical

  • Fitters

  • Welder

  • Plumber

  • Electrician

  • Stenography 

  • Computer Operating & Programming Assistant

  • Mechanic Motor Vehicle (MMV)

  • Basic Cosmetology

  • Human Resource Executive

  • Leather Goods Maker

  • Litho Offset Machine MinderHealth Safety and Environment

  • Health Sanitary Inspector

  • Horticulture

  • Hospital Housekeeping

  • Marketing Executive

  • Multimedia Animation and Special Effects

ITI की अवधि क्या होती है?

आईटीआई कोर्स की अवधि नीचे बताई गई हैः- 


  • सर्टिफिकेट कोर्स की अवधि 3, 6 माह से  lekar 2 साल तक की होती है


  • डिप्लोमा की अवधि 1 से 2 साल तक की होती है

आईटीआई कोर्स के  कितने प्रकार होते है ? | Types of ITI

आईटीआई में प्रवेश लेने वाले उम्मीदवारों के लिए ITI पाठ्यक्रम को दो भागों में बांटा गया है। दो प्रकार  निम्नलिखित  हैः- 


  • इंजीनियरिंग व्यापार (Engineering trades)


  • गैर-इंजीनियरिंग ट्रेड (Non-engineering trades)- 

आईटीआई की फीस कितनी होती है?

आईटीआई के कोर्सेज  को  करने  की फीस इंस्टिट्यूट्स के हिसाब से  दी  जाती है।  क्युकी  हर  इंस्टिट्यूट्स  अपनी फैसिलिटीज  के  हिसाब  से  चार्ज  करता  है  फीस प्रति माह 5 हजार से शुरू होती है और निजी कॉलेज के लिए 50-70 हजार प्रति वर्ष तक जाती है।  अगर आप सरकारी काॅलेजों  से करते  है  तो उनकी  फीस अलग होती है  परन्तु प्राइवेट काॅलेजों की तुलना में सरकारी काॅलेजों की फीस कम होती है।


यह भी पढ़ें - Hustlers meaning in hindi

आईटीआई के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

  • पहली  बात कैंडिडेट्स 10वीं पास होना चाहिए। आईटीआई के  कुछ कोर्सेज के लिए 8वीं पास भी  चल  जाती  है । 


  • आईटीआई के  कुछ कोर्सेज के लिए 12वीं कंप्लीट होना चाहिए। 


  • कैंडिडेट्स की  आयु 14 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। 


  • अगर आपको  सरकारी कॉलेजों  से आईटीआई करनी  है तो उसके  के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम भी देना पड़ सकता है।


Top 10 आईटीआई ( ITI ) Courses In India 2024

  • बिजली मिस्त्री (Electrician)


  • फिटर (Fitter)


  • बढ़ई (Carpenter) 


  • मेसन बिल्डिंग कंस्ट्रक्टर (Mason Building Constructor)


  • फाउंड्री मान (Foundry Man)


  • बुक बाइंडर (Book Binder)


  • वायरमैन (Wireman)


  • नलसाज (Plumber)


  • प्रतिमान निर्माता (Pattern Maker)


  • उन्नत वेल्डिंग (Advanced Welding)


25 आईटीआई  (ITI) कोर्स जिन्हे  आप  10th के बाद कर सकते  है

1.Tool & Die Maker Engineering:- 3 Year

2. Mechanical Engineering :- 2 Year

3. Draughtsman (Civil) Engineering:- 2 Year

4. Fitter Engineering :- 2 Year

5. Turner Engineering :- 2 Year

6. Information Technology & E.S.M. Engineering:- 2 Year

7. Refrigeration Engineering :- 2 Year

8. Mech. InstrumentEngineering:- 2 Year

9. ElectricianEngineering:- 2 Year

10. Mechanic Motor VehicleEngineering:- 2 Year

11.Mechanic Radio & T.V.Engineering:- 2 Year

12. Mechanic Radio & T.V.Engineering :- 2 Year

13. Mechanic ElectronicsEngineering:- 2 Year

14. SurveyorEngineering:- 2 Year

15. Diesel MechanicEngineering:- 1 Year

16. Sheet Metal WorkerEngineering:- 1 Year

17. Foundry ManEngineering :- 1 Year

18. Machinist Engineering:- 1 Year

19. Motor Driving-cum-Mechanic Engineering:- 1 Year

20. Pump OperatorEngineering:- 1 Year

21.Dress MakingNon-engineering:- 1 Year

22.Hand Compositor Non-engineering :- 1 Year

23. Manufacture FootWear Non-engineering:- 1 Year

24.Commercial ArtNon-engineering:- 1 Year

25. Secretarial Practice Non-engineering:- 1 Year

यह भी पढ़ें -  Adjust Meaning In Hindi 


आईटीआई कार्यक्रम में तरह तरह के  ट्रेड -

कोपा आईटीआई

COPA ITI,  कंप्यूटर ऑपरेटर और ITI में प्रोग्रामिंग सहायक है, वे विशेष रूप से कंप्यूटर के संचालन, कंप्यूटर सिस्टम, और नेटवर्क को स्थापित और चलाने के लिए जिम्मेदार होते हैं। इन पेशेवरों की जिम्मेदारी में अंतिम उपयोगकर्ताओं को तकनीकी सहायता और समर्थन प्रदान करना भी शामिल है। उन्हें डेटाबेस, प्रोग्रामिंग, परीक्षण, और सॉफ़्टवेयर अनुप्रयोगों को बनाए रखने का भी कार्य है। ये विशेषज्ञ नए सिस्टमों के विकास में आईटी पेशेवरों को भी योगदान देते हैं।


COPA एक गतिशील करियर प्रदान करता है, क्योंकि आईटी उद्योग में बदलाव हो रहा है और इसमें आगे बढ़ने का सूचना है। यह एक चुस्त और विस्तार-उन्मुख क्षेत्र है, जिसमें सफलता प्राप्त करने के लिए आवश्यक योग्यता के साथ COPA उत्कृष्ट व्यावसायिक विकास प्रदान कर सकता है। इसका पाठ्यक्रम छात्रों को उद्योग के मानकों और उन्नति के अवसरों के साथ मिलकर तैयार करता है।

सीटीएस आईटीआई

आईटीआई में सीटीएस का पूरा नाम "शिल्पकार प्रशिक्षण योजना" है। यह एक भारत सरकार का कार्यक्रम है जो भारतीय नागरिकों को तकनीकी और व्यावसायिक कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह कार्यक्रम देशभर में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) के माध्यम से औद्योगिक प्रशिक्षण निदेशालय (डीआईटी) द्वारा प्रदान किया जाता है। यह विभिन्न ट्रेडों में बढ़त, चिनाई, बिजली, वेल्डिंग, इत्यादि में प्रशिक्षण प्रदान करता है। इसके साथ ही, यह अंग्रेजी, कंप्यूटर, और सॉफ्ट स्किल्स को भी समाहित करता है।


इस कार्यक्रम को सभी उम्र और पृष्ठभूमि के व्यक्तियों के लिए खुला है। पूरा होने पर, छात्रों को एक आईटीआई प्रमाणपत्र प्राप्त होता है, जिसे संबंधित ट्रेडों में नौकरियों के लिए आवेदन करने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

आईटीआई एनसीवीटी

एनसीवीटी का पूरा नाम "नेशनल काउंसिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग फॉर आईटीआई" है, जो आईटीआई में स्थित है। यह भारत सरकार के कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के अंतर्गत एक वैधानिक निकाय है जो देश के युवाओं को तकनीकी और व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करता है। आईटीआई भारत में तकनीकी शिक्षा के बुनियादी स्तर के रूप में माना जाता है और एनसीवीटी इसे विभिन्न उद्योगों के लिए कुशल जनशक्ति का सबसे विश्वसनीय स्रोत माना जाता है।


एनसीवीटी आईटीआई द्वारा विभिन्न ट्रेडों में बुनियादी से लेकर उन्नत स्तर तक कई प्रशिक्षण पाठ्यक्रम प्रदान करता है। इसके साथ ही, यह विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए प्रमाणन और मूल्यांकन सेवाएं भी प्रदान करता है ताकि प्रशिक्षण की गुणवत्ता अंतरराष्ट्रीय मानकों का पूर्वानुमान कर सके। यह अधिसूचित कर्मियों को उपयुक्त रोजगार के अवसर सुनिश्चित करने के लिए प्लेसमेंट सेवाएं भी प्रदान करता है।

आईएमसी आईटीआई

ITI में IMC का पूरा नाम "इंस्टिट्यूट मैनेजमेंट कमेटी" है। ITI की संस्थान प्रबंधन समिति (IMC) ITI के प्रबंधन और प्रशासन की देखरेख करती है। आईएमसी में कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय, राज्य सरकार, स्थानीय उद्योग, और आईटीआई के निदेशक के प्रतिनिधि शामिल हैं। IMC सुनिश्चित करता है कि ITI कार्य कर रहा है और आवश्यक मानकों को पूरा कर रहा है। आईएमसी सभी नए पाठ्यक्रमों को भी मंजूरी देता है। IMC यह भी सुनिश्चित करता है कि ITI आवश्यक मानकों और नियमों को पूरा करता है।

सीटीआई आईटीआई

आईटीआई में सीटीआई का पूरा नाम "क्राफ्ट्समेन ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट" है। आईटीआई में सीटीआई कार्यक्रम सैद्धांतिक और व्यावहारिक ज्ञान प्रदान करने का कार्यक्रम प्रदान करता है। सीटीआई इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, ऑटोमोबाइल, कंप्यूटर, निर्माण, इलेक्ट्रॉनिक्स, और वेल्डिंग जैसे विभिन्न ट्रेडों में विभिन्न पाठ्यक्रमों के माध्यम से व्यावसायिक विकास पर केंद्रित है। सीटीआई छात्रों को सैद्धांतिक और व्यावहारिक निर्देश प्रदान करता है, जिससे उन्हें उद्योग में सफलता प्राप्त करने के लिए आवश्यक कौशल प्राप्त होते हैं। संस्थान सेमिनार, वर्कशॉप, और फील्ड विजिट का आयोजन करके छात्रों को सीखने के अनुभवों का अवसर प्रदान करता है। इससे सुनिश्चित होता है कि छात्र अपने चयनित ट्रेड को समझकर कार्य अनुभव कर सकते हैं।

एनएसी आईटीआई

आईटीआई में एनएसी का पूरा नाम "नेशनल अप्रेंटिसशिप सर्टिफिकेट" होता है। आईटीआई में एनएसी एक कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय की पहल है, जो 2018 में शुरू हुई थी। इसका उद्देश्य पूरे भारत में मौजूदा आईटीआई छात्रों को उद्योग-प्रासंगिक, गुणवत्तापूर्ण व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करना है। कार्यक्रम विभिन्न ट्रेडों और विषयों में शिक्षुता के अवसर प्रदान करता है, जैसे कि इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रिकल, वेल्डिंग, मशीन टूल्स, कारपेंटरी, और प्लंबिंग। कार्यक्रम के माध्यम से, छात्र व्यावहारिक अनुभव प्राप्त करेंगे और नौकरी उन्मुख कौशल विकसित करेंगे। छात्रों को एनएसी से राष्ट्रीय शिक्षुता प्रमाणपत्र भी प्राप्त होगा।

एमआरएसी आईटीआई

एमआरएसी का पूरा नाम "आईटीआई इन रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग टेक्निकल ट्रेड" है। आईटीआई में एमआरएसी ट्रेड एक व्यावसायिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम है जो छात्रों को रेफ्रिजरेशन और एयर कंडीशनिंग उद्योग में स्थापना, सर्विसिंग, रखरखाव और मरम्मत कार्य करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल से लैस करता है। कार्यक्रम में शामिल हैं - रेफ्रिजरेशन और एयर कंडीशनिंग फंडामेंटल, इलेक्ट्रिकल सिस्टम, रेफ्रिजरेंट हैंडलिंग, सिस्टम इंस्टॉलेशन और समस्या निवारण, ग्राहक सेवा और व्यवसाय प्रबंधन। पाठ्यक्रम उद्योग-मानक प्रशिक्षण प्रदान करता है जो उन्हें नौकरी के लिए तैयार करता है। छात्रों को सफल समापन पर प्रशीतन और एयर कंडीशनिंग प्रौद्योगिकी में व्यापार का प्रमाण पत्र प्राप्त होता है।

एनटीसी आईटीआई

आईटीआई में एनटीसी का पूरा नाम "नेशनल ट्रेड सर्टिफिकेट" है। राष्ट्रीय व्यापार प्रमाणपत्र (NTC) एक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (ITI) द्वारा प्रदान किया जाने वाला प्रमाणन कार्यक्रम है जो छात्रों को विशिष्ट व्यापार में बुनियादी और उन्नत कौशल प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इस कार्यक्रम का पात्र वह छात्र है जो 8वीं कक्षा या उससे अधिक की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं। राष्ट्रीय परिषद इसे व्यावसायिक प्रशिक्षण (एनसीवीटी) के लिए आयोजित करती है। एनटीसी में दो स्तर होते हैं - ऑल इंडिया ट्रेड टेस्ट (एआईटीटी) और ट्रेड सर्टिफिकेट परीक्षा (टीसीई)। एनटीसी पूरा करने पर, छात्रों को राष्ट्रीय व्यापार प्रमाणपत्र प्राप्त होता है, जिसे विभिन्न सरकारी और निजी नियोक्ता मान्यता प्रदान करते हैं।


भारत के  शीर्ष आईटीआई कॉलेजों के नाम

भारत में कई प्रमुख औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) हैं जो अपने उच्च-गुणवत्ता वाले व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए प्रसिद्ध हैं। इनमें से कुछ लोकप्रिय आईटीआई कॉलेज निम्नलिखित हैं:


iti kya hota / गाइड विडियो

FAQs

Ques. आईटीआई को  करने  के  लिए शुरुआती योग्यता क्या होनी  चाहिए ?

Ans. कैंडिडेट्स 8वीं पास और 10वीं पास होना चाहिए ।


Ques. आईटीआई की अवधि क्या होती  है?

Ans. आईटीआई को  करने  की  अवधि 3, 6 माह से लेकर 1 से 2 साल तक होती है।


Ques.आईटीआई की फुल फॉर्म क्या  होती  है?

Ans. आईटीआई की फुल फाॅर्म (इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट)  होती है।


Ques .आईटीआई के  लिए  कैंडिडेट्स की  आयु  कितनी  वर्ष से अधिक होनी चाहिए। 

Ans. आईटीआई के  लिए  कैंडिडेट्स की  आयु 14 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।


Conclusion -

मुझे उम्मीद है की इस पोस्ट में हमने जो आपको iti full form in hindi, एवं (iti ka matlab) से जुड़ी बहोत सी जानकारी बताई है, जो आपको जरूर  पसंद आयी होगी। अगर आपको ये पोस्ट पढ़ कर अच्छा लगा और आपको कुछ नॉलेज मिली तो आप इस पोस्ट को अपने और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।  ताकि वे भी iti full form in hindi meaning (iti full form in hindi 2024) जान सकें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Leave a Comment